ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
आठवले ने उत्तर प्रदेश के दो भागों में अलग पूर्वांचल राज्य और महाराष्ट्र के विदर्भ राज्य गठन की मांग की
September 24, 2019 • Snigdha Verma

 

दिल्ली। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री मा.रामदास आठवले ने उत्तर प्रदेश के दो भागों में भरकर अलग पूर्वांचल राज्य और महाराष्ट्र के विदर्भ राज्य गठन की मांग की है ।श्री आठवले ने कहा कि भविष्य में   आगामी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की होने वाली बैठक में भी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष होने के नाते मैं पूर्वांचल और विदर्भ राज्य गठन की मांग को  प्रधानमंत्री मा. नरेंद्र मोदी जी और मा. गृहमंत्री अमित शाह  के समक्षभी  रखूंगा और संबंधित क्षेत्रों की जनता की परेशानियों से अवगत कराया जायेगा ।

 आरपीआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष मा. रामदास आठवले ने जारी प्रेस बयान में  कहा कि आबादी और क्षेत्रफल के हिसाब से उत्तर प्रदेश बहुत बड़ा राज्य है और पूर्वांचल के सभी जनपदों के जनता को शासकीय कार्यों के लिए राजधानी मुख्यालय लखनऊ काफी दूर आना- जाना पड़ता है इसलिए जनता की परेशानियों को देखते हुए उत्तर प्रदेश को दो भागो में बांटने की जरूरत है ।उन्होंने कहा कि इस बात को लेकर पिछले काफी समय से मांग भी चल रही है और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया की भी मांग है  कि जनता की समस्याओं को देखते हुए उत्तर प्रदेश को दो भागों में बांट कर अलग पूर्वांचल राज्य बनाया जाए।
 उन्होंने कहा कि इसी प्रकार महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र की जनता की भी पिछले लंबे समय से अलग राज्य बनाए जाने की मांग चल रही है और वहां भी राजधानी   दूर होने के कारण जनता को अपनी समस्याओं व परेशानियों के निदान के लिए लंबा सफर तय करके राजधानी मुंबई आना पड़ता है ।श्री आठवले ने कहा कि रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष के नाते मैं भविष्य में होने वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन एनडीए की बैठक में इस मांग को में माननीय प्रधानमंत्री के समक्ष भी रखूंगा और गृह मंत्री के समक्ष भी रखूंगा।