ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
गोसेवा आयोग की नवीनतम वेबसाइट से गोपालक कर सकेंगे ऑनलाइन अनुदान के लिए आवेदन
October 2, 2019 • Snigdha Verma

स्वच्छता में योगदान और प्लास्टिक का बहिष्कार करके किया जा सकता है- आनंदीबेन पटेल

 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश गोसेवा आयोग की नवीनतम वेबसाइट का अनावरण गांधी जयंति की पूर्व संध्या पर शहीद पथ पर स्थित अवध शिल्पग्राम में एक उत्पाद एक योजना के 10 दिवसीय प्रदर्शनी के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेश के किसानों को खुशहाल बनाने और उद्यमिता के माध्यम से रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए संकल्पबद्ध है। राज्य सरकार के सभी विभाग बापू के ग्राम स्वराज को साकार करने के लिए हर सम्भव कार्य कर रहे हैं।

इस अवसर पर आयोजन की मुख्य अतिथि राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि ढाई साल के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने अनेक योजनाओं के माध्यम से इतना काम किया है जितना पिछले 15 साल में भी नहीं हुआ। महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शाष्त्री की जयंति पर उनके सपने को साकार करने के लिए स्वच्छता और प्लास्टिक मुक्त भारत बनाने में हमें हर संभव योगदान देना चाहिए।

इस अवसर पर पंचायती राज विभाग, लघु उद्यम और खादी ग्रामोद्योग विभाग की कई योजनाओं के तहत श्रमिकों और उद्यमियों को सम्मानित किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्यमियों को अब लोन के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। महज 59 मिनट में लोन की सारी औपचारिकताएं पूरी की जाएंगी।

इस आयोजन में मंच पर लघु उद्यम मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, खादी ग्रामोद्योग मंत्री चौधरी उदयभान, संस्कृति और पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी, मुख्य सचिव आर के तिवारी, गोसेवा आयोग के अध्यक्ष श्याम नंदन सिंह, उपाध्यक्ष यशवन्त सिंह भी मौजूद थे।

उ.प्र गो सेवा आयोग के अध्यक्ष श्याम नन्दन सिंह ने बताया कि आयोग की नवीन वेबसाइट गो संरक्षण और संवर्धन के सम्बंध में सभी प्रकार के नवीन जानकारियां उपलब्ध हैं। उ.प्र. में आयोग देशी नस्ल के गोवंश के संरक्षण की दिशा में गोपालकों और गोशालाओं की सहभागिता बढ़ाने के लिए ऑनलाइन आवेदन की सुविधा भी वेबसाइट में उपलब्ध करवाई गई है। इस वेबसाइट से सभी प्रकार की सरकारी योजनाओं, पंजीकृत गोशालाओं, सभी प्रकार के गोवंश की नस्लों की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। इस वेबसाइट में अद्यतन उपलब्ध सभी अनुदेश, शासनादेश और योजनाओं का विवरण सुलभ है।

प्रदेश भर में गो सेवा अश्रय स्थल, गोशालाओं या सरकारी विभागों से सम्बंधित किसी प्रकार की शिकायत भी ऑनलाइन करने की सुविधा वेबसाइट में उपलब्ध है। गोपालक उत्तर प्रदेश गोसेवा आयोग से सम्बन्धित सभी प्रकार की जानकारी upgosevaayog.in और upgosvaayog.upsdc.gov.in पर हासिल की जा सकती है।

वेबसाइट के अनावरण के अवसर पर आयोग के सदस्य कृष्ण कुमार सिंह 'भोले सिंह', विद्या भारती पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय प्रचार प्रमुख सौरभ मिश्रा, गोवंश के संरक्षण और गोपालकों की आर्थिक स्थिति को सुधार के लिए नवाचारी प्रयास करने वाले विशेषज्ञों में डॉ. आनंद कुमार, डॉ. प्रतीक सचान, डॉ. संजय यादव, डॉ गंगवार, डॉ प्रमोद कुमार त्रिपाठी, डॉ उमाशंकर श्रीवास्तव, अमित आनंद, चन्दर कुमार, सुनील शाक्य, सुनील मिश्रा सहित आयोग से सम्बद्ध विभाग, पशुपालन विभाग, कृषि विभाग उद्यान विभाग, उद्यमिता विभाग, वैज्ञानिक, गोपालक, गो प्रेमी और अनेक संबधित विभागों के अधिकारी और हजारों की संख्या में जनमानस मौजूद था।