ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
नवीन रेल मार्गों का विद्युतीकरण तीव्र गति से पूर्णता की ओर
July 6, 2019 • Snigdha Verma

बिलासपुर

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वरा रेलवे की अधोसंरचना की तेजी से विकास करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है | चाहे व नई रेल लाइन बिछाने का कार्य हो या छोटी लाइन को बड़ी लाइन में परिवर्तित करने का कार्य हो | दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के कार्य क्षेत्र में आने वाले ऐसे क्षेत्र जहां अब तक रेल नहीं पहुच पाई है ऐसे क्षेत्र में भी रेल पहुंचाने के कार्य को कर रही है | साथ ही साथ दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के कार्य क्षेत्र में बिछाये जा रहे नई रेल लाइनों को विद्युतीकरण करने का काम भी किया जा रहा है |

 

 नव निर्मित रेल लाईनों का विद्युतीकरण करने का काम दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा पिछले 5 वित्तीय वर्षों में काफी तेजी से किया गया है | वित्तीय वर्ष 2015-16  में आमान परिवर्तन के कार्य के अंतर्गत नागपुर मंडल के डोगरीखुर्द – रामटेक 33.769 रुट किलोमीटर नई रेल लाइनों को विद्युतीकरण किया गया | 2017-18 में आमान परिवर्तन के कार्य के अंतर्गत नागपुर मंडल के गोंदिया-चंदापोर्ट रेल खंड 240 रुट किलोमीटर, कचापूडा – सिकारा रेल खंड पर 59 रुट किलोमीटर, छिंदवाडा–भंडारारोड रेल खंड पर 33 रुट किलोमीटर कुल 332 रुट किलोमीटर रेल लाईनों को विद्युतिकृत किया गया | इसी प्रकार 2018-19  में गोंदिया–समनापुर रेल खंड 59  रुट किलोमीटर, सिकारा-नैनपुर रेल खंड 56  रुट किलोमीटर, नैनपुर-चिरैडोंगरी रेल खंड 19 रुट किलोमीटर,एवं नैनपुर-केलोद रेल खंड 48 रुट किलोमीटर कुल 182 रुट किलोमीटर की नई रेल लाईनों को विद्युतिकृत किया गया | वित्तीय वर्ष 2019-20 के अप्रेल से जून 2019 तक रायपुर मंडल के अंतर्गत रायपुर-लाखोली रेल खंड 29 रुट किलोमीटर तक के नवनिर्मित रेल लाईनों को विद्युतिकृत किया गया | इस प्रकार विगत चार वर्षों में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा 576 रुट किलोमीटर तक के नवनिर्मित रेल लाईनों का विद्युतिकृत किया गया है |

वर्तमान वित्तीय वर्ष 2019-20 में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा 212 रुट किलोमीटर तक के नवनिर्मित रेल लाईनों को विद्युतिकृत करने का लक्ष्य रखा गया है जिसके साथ ही साथ 535 रुट किलोमीटर तक रेल लाईनों को विद्युतिकृत करने का बोर्ड द्वारा दिए गए लक्ष्य को पूरा किया जाएगा |