ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
मुख्यमंत्री के गृह जिले में आंखफोड़वा कांड शर्मनाक -गोपाल भार्गव
October 2, 2019 • Snigdha Verma

नेता प्रतिपक्ष ने कहा प्रदेश में कब तक लापरवाही की भेंट चढ़ेंगे मरीज
भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव ने मुख्यमंत्री के गृह जिले छिंदवाड़ा में शासकीय चिकित्सालय में डॉक्टरों की लापरवाही से 4 लोगों की आंखों की रोशनी चले जाने की घटना को गंभीर लापरवाही बताया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के जिले में स्वास्थ्य सुविधाएं अगर ऐसी है तो प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाएं किस तरह चरमराई हुई होगी इस बात का अंदाजा आसानी  से लगाया जा सकता है।
इंदौर की घटना से भी सबक नही ले पाई सरकार
उन्होंने कहा कि डेढ़ माह पूर्व इंदौर में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 11 मरीजों की आंख की रोशनी चले जाने का सनसनीखेज मामला सामने आने के बाद भी प्रशासन सजग ओर सचेत नहीं हुआ। इंदौर की घटना से सबक न लेने के कारण ऐसी घटना की पुनरावृत्ति हुई है। एक बार फिर  गरीब  मरीज  डॉक्टरों की लापरवाही  की भेंट चढ़ गए। उन्होंने कहा कि यह मामला जनता के प्रति सरकार की गंभीरता को तो दर्शाता ही है, साथ ही स्वास्थ्य व्यवस्थाओं पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करती है।  
पीड़ितों को 20 लाख की सहायता दे प्रदेश सरकार
नेता प्रतिपक्ष श्री भार्गव ने कहा कि इस घटना में हद तो तब हो गई  जब मरीजों ने सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की और उनकी शिकायतों को भी गंभीरता से नहीं लिया गया। नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव ने इस घटना के पीड़ित मरीजों को सरकार द्वारा 20 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने, उनके बेहतर इलाज की व्यवस्था करने के साथ लापरवाही बरतने वाले डॉक्टर के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।