ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
मॉब लिंचिंग – एक राष्ट्र विरोधियों का षड्यंत्र, विहिप ने किया पर्दाफ़ाश
July 26, 2019 • Snigdha Verma

हिन्दू विश्व के 'मॉब लिंचिंग – एक षड्यंत्र विशेषांक' का हुआ विमोचन

       नई दिल्ली . मॉब लिंचिंग के नाम पर हिन्दू समाज व देश को बदनाम करने तथा इस्लामिक जिहादी, अराजक तत्वों को भड़काने के तरह तरह के षड्यंत्र रचे जा रहे हैं. इन षड्यंत्रों का पर्दाफ़ाश करने हेतु आज 'हिन्दू विश्व' नामक पाक्षिक पत्रिका के विशेषांक 'मॉब लिंचिंग-एक षड्यंत्र' का विमोचन किया गया. इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए देश के जाने माने पत्रकार व न्यूज़ नेशन नेटवर्क के कंसल्टिंग एडिटर श्री दीपक चौरसिया ने कहा कि 1400 वर्षों के इतिहास वाले लोगों का संरक्षण करने व दुनिया की सनातन परम्परा को बदनाम करने हेतु एक तरह से इंडस्ट्री चलाई जा रही है. ऐसा लगता है कि यह काम हिन्दुओं की बढती हुई ताकत के डर से सोची समझी रणनीति के तहत किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि ऐसा क्यों हो रहा है कि देश में सर्वाधिक जनसंख्या वाले हिन्दू स्वयं को हिन्दू कहने में भी डर रहे हैं तथा जय श्री राम जैसे पवित्र उद्घोष को भी लांछित करने से भी बाज़ नहीं आ रहे.

      कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विश्व हिन्दू परिषद् के अंतर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष एडवोकेट श्री आलोक कुमार ने कहा कि भारत की परंपरा लिंचिंग की हो ही नहीं सकती वरन दुनिया को पता है कि गुरु गोबिंद सिंह जी महाराज के तीनों साहबजादों को दीवार में क्यों चुना गया. स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भी हिन्दुओं को दोयम दर्जे का नागरिक बनाने हेतु सतत प्रयास हुए किन्तु 90 के दशक में प्रारंभ हुए श्रीराम जन्म भूमि आन्दोलन और जय श्री राम के पवित्र उद्घोष ने जनमानस के अन्दर दबे हुए हिंदुत्व को पुनः खडा किया. उन्होंने कहा कि कितने ही कुचक्र रचे जाएँ भारत भारत ही रहेगा और विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता हिन्दू धर्म, संस्कृति व देश की रक्षा हेतु पूर्व की भांति सदैव अग्रसर रहेँगे.

      कारगिल विजय दिवस पर शहीदों को नमन कर देश को शुभ कामनाएँ देते हुए विहिप के संयुक्त महामंत्री डा सुरेन्द्र जैन ने कहा कि वे कौन लोग हैं जो याकूब मेमन और अजमल कसाब सहित आतंकियों की पैरवी कर न्यायपालिका पर प्रश्न चिह्न लगाते हैं, सेना प्रमुख को गली का गुंडा कहते हैं. हिन्दुओं को बदनाम करने और अपने पापों को छुपाने हेतु हिन्दू समाज और भारत विरोधी उग्र व हिंसक प्रदर्शन करते हैं, बच्चों से भरी हुई बस को आग लगाकर गोधरा कांड दोहराने की कोशिश करते हैं तथा देश की राजधानी में ही हिन्दुओं के मंदिरों को तोड़ते हैं. एक पूर्व जज का ज़िक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वास्तव में सेना, संविधान और संघ के कारण ही देश मजबूती के साथ खडा है जिसके टुकड़े टुकड़े करने के लिए अनेक प्रकार की सेक्यूलर व अवॉर्ड वापसी गैंग सक्रिय है चाहे चर्च पर हमलों का शगूफा हो या दलितों के मसीहा बनने का दिखावा. हिन्दुओं द्वारा मासूम बच्चियों के साथ बलात्कार के दुष्प्रचार हों या मॉब लिंचिंग की मनगढ़ंत कहानियां, अधिकाँश झूंठी साबित हुई हैं.

      विहिप के अखिल भारतीय प्रचार प्रसार प्रमुख श्री विजय शंकर तिवारी ने कहा कि कल जिन 49 लोगों ने प्रधानमंत्री को पत्र भेजकर कथित लिंचिंग की घटनाओं पर घडियाली आंसूं बहाए उनमें से 25 बंगाल के हैं किन्तु उसी बंगाल में हिन्दुओं की सर्वाधिक लिंचिंग व जय श्री राम का उद्घोष लगाने वालों को जेल भेजा जा रहा है. उसपर ये अवॉर्ड वापसी गैंग चुप क्यों है? हिन्दू विश्व का यह अंक एक दस्तावेज साबित होगा और अब इसका हर अंक देश व हिन्दुओं को बदनाम करने वाले षड्यंत्रकारियों का पर्दाफ़ाश करेगा.

      इस अवसर पर विहिप के संयुक्त महामंत्री श्री कोटेश्वर शर्मा, केन्द्रीय मंत्री श्री हरी शंकर, विहिप दिल्ली के कार्याध्यक्ष श्री वागीश इस्सर, उपाध्यक्ष श्री सुरेन्द्र गुप्ता व श्री गुरदीन प्रसाद रुस्तगी, सनातन धर्म प्रतिनिधि सभा के श्री ब्रजमोहन सेठी और सांस्कृतिक गौरव संस्थान के एडवोकेट आर पी शर्मा सहित अनेक संस्थाओं के गणमान्य लोग व पत्रकार उपस्थित थे.