ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
राहुल गाँधी देश को नहीं रख सकते सुरक्षित
April 17, 2019 • Snigdha Verma

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने आज ओड़िशा के ढेंकनाल और बारम्बा में आयोजित विशाल जन-सभाओं को संबोधित किया और ओड़िशा में भाजपा कार्यकर्ताओं पर हो रहे हमले को लेकर राज्य की बीजद सरकार पर हमला करते हुए विकास से लेकर भ्रष्टाचार तक कई मुद्दों पर नवीन पटनायक को घेरा।

 

श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस पार्टी देश को सुरक्षित नहीं रख सकती, वह हिंदू टेरर और भगवा आतंकवाद कह कर देश को केवल बदनाम ही कर सकती है। सोनिया-मनमोहन की कांग्रेस सरकार ने समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट मामले में हिंदू टेरर और भगवा आतंकवाद का शब्द गढ़ कर झूठे आरोपों में साधु-साध्वियों को जेल में डालने का काम किया था, साध्वी की प्रताड़ित किया गया। हाल ही में समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट मामले में कोर्ट का निर्णय आ गया। स्वामी असीमानंद को निर्दोष छोड़ दिया गया। आदेश में यह बात सामने आई कि ‘भगवा टेरर’ महज एक काल्पनिक बात है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने पूरी दुनिया में हिंदुओं को और देश को बदनाम करने का घृणित पाप किया है। भारतीय जनता पार्टी ने तय किया है कि हम साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को ‘भगवा टेरर’ शब्द के जन्मदाता दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल से चुनाव के मैदान में उतारेंगे। भाजपा साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को दिग्विजय सिंह के सामने लोगों की अदालत में लेकर जा रही है। मुझे भरोसा है कि भोपाल की भोपाल की जनता भगवा टेरर के नाम से देश को बदनाम करने वाले दिग्विजय सिंह और राहुल बाबा को दंड देने का काम करेगी।

 

श्री शाह ने कहा कि मैं बीजद अध्यक्ष और राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से पूछना चाहता हूँ कि आपके शासन में लगातार भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं की हत्या हो रही है, इसका जिम्मेवार कौन है? अभी 14 अप्रैल को ही हमारे मंडल अध्यक्ष श्री मंगुली जेना की नृशंस हत्या कर दी गई। इतना ही नहीं, आज भी हमारे एक उम्मीदवार पर जानलेवा हमला हुआ है। हमारे कार्यकर्ताओं पर भी हमले हो रहे हैं। यदि राज्य की बीजद सरकार यह समझती है कि हमले होने भाजपा के कार्यकर्ता डर जायेंगे, भारतीय जनता पार्टी चुनाव के मैदान से भाग जायेगी तो यह उनकी बड़ी भूल होगी। यदि बीजू जनता दल भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला करके डरायेगी, तो वे जान लें, हम भाजपा के कार्यकर्ता हैं, हम अच्छे से जवाब देना जानते हैं। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में हिंसा की कोई जगह नहीं है और भारतीय जनता पार्टी हिंसा की राजनीति में कतई विश्वास नहीं रखती लेकिन जिस बीजद सरकार ने ओड़िशा में हिंसा का कुचक्र चलाया है, उस सरकार की राज्य से विदाई तय है। मैं पार्टी के कार्यकर्ताओं से अपील करना चाहता हूँ कि आप बीजद के हिंसा का जवाब ज्यादा से ज्यादा मतदान कर और लोक सभा के साथ-साथ विधान सभा में भी भारतीय जनता पार्टी को विजयी बनाकर दें।

 

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि समग्र राष्ट्र ने यह निर्णय ले लिया है कि देश के अगले प्रधानमंत्री भी श्री नरेन्द्र मोदी जी ही होंगे। उन्होंने निर्णय इसलिए लिया है कि आजादी के 70 सालों में देश के विकास एवं राष्ट्र की सुरक्षा के लिए जितने कार्य नहीं हुए, उससे कहीं अधिक कार्य विगत पांच वर्षों में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने कर के दिखाया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में एक परिवार की चार-चार पीढ़ियों ने देश में सरकारें चलाई लेकिन गरीबों को नारों के सिवाय कुछ भी नहीं दिया जबकि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने विगत पांच वर्षों में ही देश के लगभग 50 करोड़ गरीबों के जीवन-स्तर को ऊपर उठाने के लिए हर संभव प्रयास किये। उज्ज्वला योजना, स्वच्छ भारत अभियान, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि आदि योजनाओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की हर योजना में देश के गरीब और आदिवासी ही हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश के लगभग 50 करोड़ गरीबों के लिए आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की लेकिन नवीन पटनायक सरकार प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की अपार लोकप्रियता से इस कदर डर गई है कि वह ओड़िशा में गरीब लोगों के लिए वरदान के समान आयुष्मान भारत योजना से भी राज्य को वंचित रखने का पाप कर रही है।

 

श्री शाह ने कहा कि ओड़िशा के विकास के लिए मोदी सरकार ने विकास के कई कार्य किये हैं। उन्होंने कहा कि बीते पांच वर्षों में मोदी सरकार ने ओड़िशा को विकास के लिए लगभग 5,56,556 करोड़ रुपये दिए हैं लेकिन ये पैसे राज्य की जनता के कल्याण में लगाए जाने की बजाय बीजद सरकार के भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गए। इसके अतिरिक्त डीएमएफ के तहत 6081 करोड़ रुपये दिए गए हैं। बहरामपुर में आईआईएससीआर, संभलपुर में आईआईएम, भुबनेश्वर में आईआईटी और भुबनेश्वर में ही ईएसआईसी जैसे संस्थान दिए गए हैं। लगभग 10,000 करोड़ रुपये की लागत से सड़कें बनाई जा रही हैं। झारसुगड़ा में हवाई अड्डे की शुरुआत हुई है, यहाँ पर एक मल्टीमॉडल लोजिस्टिक पार्क की स्थापना हुई है, बालासोर-हल्दिया-दुर्गापुर एलपीजी लाइन डालने का काम हुआ है और महानदी-ब्राह्मणी नदी पर लगभग 5000 करोड़ रुपये की लागत से वाटरवे की शुरुआत हुई है। रेलवे लाइन की विकास के लिए करोड़ों रुपये की योजनायें चल रही है और राज्य के लगभग 53 रेलवे स्टेशनों को वाई-फाई से जोड़ा गया है। मुद्रा योजना के तहत राज्य के लगभग 84 लाख लोगों को स्वरोजगार के लिए ऋण उपलब्ध कराये गए हैं, जन-धन योजना के तहत राज्य के लगभग डेढ़ करोड़ लोगों के बैंक अकाउंट खोले गए हैं और राज्य की लगभग 42 लाख माताओं को उज्ज्वला योजना के तहत गैस का कनेक्शन उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने कहा कि पाइका विद्रोह के सम्मान में मोदी सरकार ने डाक टिकट जारी कर देश की स्वतंत्रता की इस महान लड़ाई को विश्व इतिहास में प्रतिष्ठा दिलाने का काम किया है।

 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि नवीन बाबू ने 19 साल तक ओड़िशा में शासन किया लेकिन आज तक राज्य 35% आबादी पीने के पानी से वंचित है। आज भी राज्य के लोगों के पास शिक्षा, बिजली, सड़क, घर और स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी सुविधाएं भी नहीं हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर ओडिशा में 2022 तक एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं रहेगा जिसके पास घर न हो, घर में बिजली न हो, घर में शौचालय न हो और घर में पीने का पानी न हो। ओड़िशा में बनने वाली भाजपा सरकार राज्य में आयुष्मान भारत योजना को शत-प्रतिशत लागू करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य में भाजपा सरकार बनने पर रेप के आरोपियों को कैपिटल पनिशमेंट दी जायेगी। इतना ही नहीं, ओड़िशा में भाजपा की सरकार बनने के छः महीने में ही महिला स्व-सहायता समूह के सभी ऋण माफ़ कर दिए जायेंगे। सभी किसानों को जीरो प्रतिशत पर ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। 60 वर्ष की उम्र के बाद सभी किसानों को मासिक पेंशन दी जायेगी।  

 

श्री शाह ने कहा कि ओड़िशा में खनिज संसाधन इतनी प्रचुर मात्रा में है लेकिन राज्य के लोग गरीब हैं। शाह कमीशन की रिपोर्ट में यह सामने आया है कि खदानों में जम कर भ्रष्टाचार हुआ है। जिन्होंने भी खनन में घोटाला किया है, राज्य में भाजपा सरकार बनने पर उनकी जगह जेल की सलाखों के पीछे होगी। उन्होंने कहा कि बीजद सरकार के ठीक नाक के नीचे चिटफंड घोटाला हुआ लेकिन आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। ओड़िशा में भाजपा सरकार बनने पर 90 दिनों के भीतर चिटफंड घोटाले के सारे आरोपियों को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि ओड़िशा में लोकतंत्र समाप्त हो चुका है। जन-प्रतिनिधियों की जगह सरकारी बाबू सरकार चला रहे हैं। राज्य में सांसद-विधायक असहाय की तरह खड़े हैं जबकि बाबू लोग राज कर रहे हैं। जन-प्रतिनिधियों को सरकार चलानी चाहिए या नहीं? यदि राज्य में यह स्थिति बदलनी है तो ओड़िशा में भी भाजपा सरकार बनानी होगी।   

 

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने विगत पांच वर्षों में सबसे बड़ा काम देश को सुरक्षित करने का किया है। सोनिया-मनमोहन की कांग्रेस सरकार में आये दिन पाकिस्तान प्रेरित आतंकवादियों के हमले हमारे देश में होते रहते थे लेकिन कांग्रेस सरकार हाथ पर हाथ धरे चुप बैठी रहती थी, उसे देश की सुरक्षा से कोई लेना-देना ही नहीं था। पहले उरी के बाद सर्जिकल स्ट्राइक और अब पुलवामा के बाद एयरस्ट्राइक करके मोदी सरकार ने दुनिया को यह सशक्त संदेश दिया है कि भारत अपनी सीमाओं की सुरक्षा करने में सक्षम है और आतंकवादियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कांग्रेस पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि राहुल गाँधी के गुरु सैम पित्रोदा कहते हैं कि आतंकियों पर बम नहीं बरसाना चाहिए, उनसे बातचीत करनी चाहिए। पित्रोदा जी, आतंकियों से बातचीत करना कांग्रेस पार्टी और उसके सहयोगियों की नीति हो सकती है, भारतीय जनता पार्टी की नहीं। मोदी सरकार में आतंकवादियों को उसी की भाषा में करारा जवाब मिलेगा क्योंकि हमारे लिए हमारे जवानों और हमारे नागरिकों की सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है।

 

श्री शाह ने ओड़िशा की जनता से आग्रह करते हुए कहा कि आप केंद्र में और ओड़िशा में दोनों जगह भारतीय जनता पार्टी की सरकार बना दीजिये, हम पांच वर्षों में ही ओडिशा को देश के विकसित प्रदेशों की सूची में शामिल करेंगे। उन्होंने कहा कि इस बार ओड़िशा की जनता को दो वोट देने हैं - एक विधान सभा के लिए और दूसरा लोक सभा के लिए और दोनों वोट कमल के निशान पर डालना है क्योंकि दोनों वोट हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी तक ही पहुँचने वाले हैं। आपके वोट से सुरक्षित, समृद्ध और खुशहाल भारत की नींव पड़ने वाली है।