ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
वंचितों, कमेरों के विकास के बगैर बाबा साहब डॉ.भीम राव अंबेडकर का सपना पूरा नहीं होगा: अनुप्रिया पटेल
August 24, 2019 • Snigdha Verma

क्रांति दिवस के अवसर पर डॉ.सोनेलाल पटेल को याद करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने यूपीएससी की तर्ज पर अखिल भारतीय न्यायिक सेवा के गठन की मांग की

क्रांति दिवस के मौके पर श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने अपना दल (एस) के पदाधिकारियों संग बैठक कर आवश्यक निर्देश दिया

लखनऊ, 23 अगस्त

'अपना दल के संस्थापक यश:कायी डॉ.सोनेलाल पटेल कहते थें कि व्यवस्था परिवर्तन के बगैर समाज का निचला तबका विकास की मुख्यधारा से नहीं जुड़ेगा और जब तक समाज का दबा-कुचला, वंचित, कमेरा वर्ग विकास की मुख्यधारा से नहीं जुड़ेगा तब तक संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ.भीम राव अंबेडकर का सपना पूरा नहीं होगा।' पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने शुक्रवार को क्रांति दिवस के अवसर पर लखनऊ के 1ए, मॉल एवेन्यू स्थित कैंप कार्यालय में कार्यकत्र्ताओं को संबोधित करते हुए यह विचार व्यक्त किया। बता दें कि आज से 20 साल पहले 23 अगस्त 1999 में अपना दल संस्थापक डॉ.सोनेलाल पटेल और उनके कार्यकत्र्ताओं पर इलाहाबाद के पीडी टंडन पार्क में पुलिस ने बर्बर तरीके से लाठी चार्ज किया था। लाठी चार्ज की वजह से डॉ.सोनेलाल पटेल सहित पार्टी के कई दर्जन कार्यकत्र्ता बुरी तरह से घायल हो गये थें। अपना दल कार्यकत्र्ता प्रतिवर्ष 23 अगस्त को 'क्रांति दिवस' के तौर पर मनाते हैं।

लखनऊ में आयोजित 'क्रांति दिवस' के मौके पर पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने कहा कि जिन सिद्धांतों को लेकर अपना दल का गठन हुआ था, हमें उसी सामाजिक न्याय के सिद्धांतों पर चलना है। उन्होंने कार्यकत्र्ताओं से आह्वान किया कि आपके विचारों में आपके सिद्धांत झलकने चाहिए।

पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने इस अवसर पर कहा कि आज समाज का निचला तबका विधानसभा और लोकसभा में चुनाव जीत कर आ रहा है, लेकिन अभी भी न्यायपालिका में इस वर्ग की हिस्सेदारी नाममात्र है। अत: हमारी मांग है कि संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की तर्ज पर अखिल भारतीय न्यायिक सेवा का गठन जल्द से जल्द हो, ताकि अन्य पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति- जनजाति वर्ग के मेधावी युवक-युवतियों को भी न्यायपालिका में सेवा करने का मौका मिले। उन्होंने कहा कि न्यायपालिका किसी भी व्यक्ति से जुड़ा बहुत ही संवेदनशील मामला है।

दिल्ली में हो लौह पुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल का स्मारक:

पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने दु:ख प्रकट करते हुए कहा कि जिस महापुरुष ने बगैर किसी हिंसा के देश की 565 रियासतों का विलय कराकर अखंड भारत का निर्माण किया, आज उसी महापुरुष का स्मारक दिल्ली में नहीं है। अत: हमारी अपना दल (एस) परिवार की ओर से केंद्र सरकार से मांग है कि दिल्ली में लौह पुरुष सरदार बल्लभ भाई पटेल जी का स्मारक जल्द से जल्द स्थापित किया जाय।

श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने कार्यकत्र्ताओं को पार्टी को मजबूत करने और गांव गांव तक डॉ.सोनेलाल पटेल जी के विचारों को पहुंचाने का निर्देश दिया। इस अवसर पर उन्होंने पदाधिकारियों एवं कार्यकत्र्ताओं से मुलाकात के दौरान पिछले सप्ताह पार्टी द्वारा चलाए गए सदस्यता अभियान का सत्यापन भी किया। उन्होंने प्रदेश के सभी जिलों के सदस्यता प्रभारियों से एक-एक करके मुलाकात की और सदस्यता अभियान को युद्धस्तर पर चलाने का निर्देश दिया।

इस मौके पर पार्टी के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष ओपी कटियार, उत्तर प्रदेश सरकार के कारागार राज्यमंत्री जयकुमार सिंह जैकी, नेपाल सिंह कसाना, जवाहर लाल पटेल, ब्रजेंद्र प्रताप सिंह, अजय प्रताप सिंह, अवध नरेश वर्मा, रामलखन पटेल (दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री), रेखा वर्मा (दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री), तेजबली सिंह, अरविंद बौद्ध, नरेंद्र पटेल, प्रीतम पटेल, प्रदेश प्रवक्ता अरविंद शर्मा, प्रदेश प्रवक्ता राजेश पटेल, रामसिंह पटेल इत्यादि वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे।