ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
‘एक दिन बिक जाएगा माटी के मोल’
August 27, 2019 • Snigdha Verma

शुक्रिया मुकेश 2019” का कार्यक्रम का भव्य आयोजन
 
नवरत्न फॉउंडेशन्स द्वारा नोएडा के सेक्टर 6 में स्थित इंदिरा गांधी कला केंद्र में “शुक्रिया मुकेश 2019” का कार्यक्रम आयोजित किया गया । इस कार्यक्रम में गीतों और सांस्कृतिक नृत्य की प्रस्तुति भी हुई। वही इस कार्यक्रम का शुभारंभ  से राष्ट्र गान हुआ। इस कार्यक्रम का भावपूर्ण संचालन अनीता भाल्वर एवं  नवरत्न फॉउंडेशन्स के अध्य्क्ष अशोक श्रीवास्तव ने किया.  कार्यक्रम के संचालन के साथ नवरत्न की गतिविधियों पर प्रकाश डाला और साथ में उपस्थित जनसमूह के साथ दिवंगत पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज, श्री अरुण जेटली एवम प्रसिद्ध समाचार वाचक श्री आशुतोष जैन को श्रद्धांजलि  अर्पित करते हुए दो मिनट का मौन भी रखा । इस बार शुक्रिया मुकेश का पन्द्रहवां वर्ष था और इस बार केवल युगल गीत है रखे गये थे जिसको कुछ प्रसिद्ध एवं कुछ उभरते हुए गायकों की जोड़ियों ने बाखुभी निभाया. इसके. कार्यक्रम में  गीतों की श्रंखला का प्रारम्भ श्री विनय सेठिया एवं गायिका राखी उपध्याय ने 'यह मौसम रंगीन समां व् 'ले चल मेरे जीवन साथी', दिलीप रैना एवं  गायिका स्वाति तम्हाने ने 'ओ शमा मुझे फूंक दे' व् 'मैं ना भूलूंगा',  संजय पाण्डेय एवं गायिका तुहिना चटर्जी ने 'तुम रूठी रहो मैं मनाता रहू', इब्तदाये इश्क में सारी रात जागे'व् फूल तुम्हे भेजा है खत में  , गायक पंकज माथुर एवं संध्या धींगरा ने 'एक मंजिल राही दो तो प्यार' व् 'हम तुम युग युग से, कपिल तिवारी एवं गायिका भावना अवस्थी ने 'जे हम तुम चोरी से' व दिल तड़प तड़प कह रहा', सोमेश्वर शर्मा एवं उमा शर्मा ने 'याद रहेगा यह प्यार के रंगीन' व् बड़े अरमान से रखा है,  , रमेश कुमार एवं गायिका सुनीता आहूजा ने 'बोल गौरी बोल तेरा कौन पिया' व् लाखों तारे आसमान गाना गाया , जिसको दर्शकों ने काफी ध्यान से सुना और सुर से सुर मिला कर गाया । सौरभ गंगल एवं गायिका भुवना जय कुमार ने 'हमसफर मेरे हमसफर' व् तेरे होंठो के दो फूल प्यारे  , गायक संजय पाण्डेय एवं देबू मुखर्जी ने 'एक दिन बिक जाएगा माटी के मोल' , गायिका सुमिता सक्सेना एवं हरीश माथुर  ने 'दिल लूटने वाले जादूगर' व् एक रात में दो दो चाँद खिले, अधिवक्ता सुमित कुमार एवं  गायिका मुस्कान श्रीवास्तव ने 'यह वादा करो चांद के सामने' व् महबूब मेरे महबूब मेरे , रूप राजिंदर एवं गायिका सपना भटनागर ने 'धीरे-धीरे बोल कोई सुन ना ले' व् नैन तुम्हारे मजेदार,जैसे गानों को गाकर लोगों को तालिया बजाने को मजबूर कर दिया ।खासबात ये है कि कुछ गायक ऐसे थे जिन्होंने गाने गाए , जिसको सुनकर सभी को ऐसा लग रहा था कि महान गायक मुकेश जी की याद ताजा हो गयी है । वही इन सभी संगीत को सुनकर किसी के आँखे नम हो गई। इसीके साथ इंदिरापुरम के प्रसिद्ध दंत चिकित्सक दम्पति  डॉ. अनुपमा सहाय एवं डॉ. संजय लाभ के गाये गीत 'दिल के नजर से' को भी लोगों ने बहूत सराहा.   वही दूसरी तरफ मशूहर गायकों ने अपने गानों से लोगों को खड़े होने को मजबूर कर दिया। इसमें कोई संदेह नहीं गंधर्व बैंड के संगीत ने भी सब को रिझाया, एल.इ.डी स्क्रीन पर दीपक ने और वेबकास्ट पर विनीत खरे जी ने भी कमाल दिखाया. वही इस कार्यक्रम में डॉ बबिता शर्मा, सुभाष भाटिया , ज़ोरावर सिंह , सुनीता माहेश्वरी , शालिनी पीटर , प्रदीप शर्मा , गगन दीप शर्माराकेश काला, कृष्ण मोहन को नवरत्न फॉउंडेशन्स द्वारा सम्मानित किया गया । वही सम्मानित हुए गणमान्य लोगों ने अपना विचार भी व्यक्त किया ।साथ ही इस कार्यक्रम में श्रीमती एवं श्री सुधीर मितल,शालनी पीटर समाजसेविका ज्योति सक्सेना, प्रधानाचार्या डॉ, मंजू शर्मा, अनुराग शर्मा, अरविन्द श्रीवास्तव, सेवक राम यादव, वैध अच्युत त्रिपाठी, अजयकान्त सक्सेना, अनिल सिंह, विनोद शर्मा, राजेश्वरी त्यागराजन, डॉ. कल्पना भूषण,अनिल मिश्रा, मंजीत सिंह बुटालिया, डॉ. अनीता सक्सेना, वरुण गाबा, आर.सी.गुप्ता, मुरारी प्रसाद श्रीवास्तव, डॉ. डी.डी. अरोड़ा, श्रीमती एवं  श्री आर चम्म, रामेश्वर लाल लवानिया, डी.एन. भाटिया, एस. एल. नागपाल, हरीश भाल्वर, मनोज महेश्वरी, आर.पी. माथुर, अनुरंजन श्रीवास्तव, विवेक श्रीवास्तव, श्वेता गुप्ता, श्याम गुप्ता, मोहित शर्मा, मुकेश निगम, विंग. कमांडर आशीष सक्सेना,न अर्चना सक्सेना, पवन शर्मा, विनय प्रकाश, रमाकांत सिंह, डॉ. मंजू रैना, नवनीत सक्सेना, अशोक तक्यार, ऐ.बी. महाजन, जय कुमार, चौधरी वेद पाल सिंह, अजय श्रीवास्तव, आशीष सिन्हा, श्रीमती पूनम सक्सेना, आर.के. सक्सेना, जज राम प्रकाश जी, मनोज जायसवाल, रश्मि गुप्ता, अशोक सक्सेना, रतन बुद्धिराजा, संजय श्रीवास्तव, पुनीत सक्सेना, अकरम चौधरी, वीरेंद्र मलिक, अदित भटनागर, सखी गुंजन की सीमा गुप्ता, अनोखी झा, सविता धामी, चंदा चौधरी, रीना झा एवं विनय चौधरी के नेतृत्व में शहीद भगत सिंह सेना के अनेक सदस्य  साथ गुरजीत सिंह, श्रीमती सुनीता एवम सतीश ठुकराल आदि गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।