ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
आयुष्मान सहकार योजना का शुभारंभ, सहकारी समितियों के माध्यम से देशभर में होगा क्रियान्वयन
October 19, 2020 • Snigdha Verma • Health

10,000 करोड़ रू. की स्कीम से गांव-कस्बों में जुटेगी स्वास्थ्य सुविधाएं

नई दिल्ली। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास, पंचायत राज तथा खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री  नरेंद्र सिंह तोमर के मार्गदर्शन में राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) ने सहकारी समितियों द्वारा देश में स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढांचे के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए एक अनूठी योजना तैयार की है। इसका शुभारंभ सोमवार को किया गया। 10 हजार करोड़ रूपए की इस स्कीम से गांव-कस्बों में स्वास्थ्य सुविधाएं जुटेगी।

श्री तोमर ने योजना की सफलता के लिए एनसीडीसी को शुभकामना संदेश दिया, वहीं सोमवार को केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री  परषोत्तम रूपाला के आतिथ्य में योजना लांच की गई। योजना के अंतर्गत आने वाले वर्षों में एनसीडीसी 10,000 करोड़ रू. तक के आवधिक ऋण मुहैया कराएगा। श्री रूपाला ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा किए जाने वाले किसान कल्याण क्रियाकलापों को मजबूत करने की दिशा में यह योजना सहायक होगी। योजना ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवा पहुंचाने के तरीके में क्रांतिकारी बदलाव लाएगी। उन्होंने सहकारी समितियों से किसानों के लिए एक गतिविधि के रूप में स्वास्थ्य सेवा लेने का आव्हान किया।

एनसीडीसी के एमडी श्री संदीप कुमार नायक ने बताया कि देश में अभी करीब पांच हजार बेड क्षमता के 52 अस्पताल सहकारी समितियों द्वारा संचालित हो रहे हैं। एनसीडीसी निधि सहकारिताओं द्वारा स्वास्थ्य देखभाल सेवा के प्रावधान को मजबूती प्रदान करेगी। एनसीडीसी की योजना राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति-2017 पर ध्यान केंद्रित करने के साथ ही अपने सभी आयामों में स्वास्थ्य प्रणालियों को आकार देने के उद्देश्य से स्वास्थ्य में निवेश, स्वास्थ्य सेवाओं के संगठन, प्रौद्योगिकी तक पहुंच, मानव संसाधन का विकास करने, चिकित्सा बहुलवाद को प्रोत्साहित करने, किसानों को सस्ती स्वास्थ्य देखभाल इत्यादि को सम्मिलित करती है। इसका स्वरूप- अस्पतालों, स्वास्थ्य सेवा, चिकित्सा शिक्षा, नर्सिंग शिक्षा, पैरामेडिकल शिक्षा, स्वास्थ्य बीमा एवं समग्र स्वास्थ्य प्रणालियों जैसे आयुष के साथ व्यापक है। आयुष्मान सहकार योजना सहकारी अस्पतालों को मेडिकल/आयुष शिक्षा में भी वित्त पोषण करेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 15 अगस्त 2020 को शुभारंभ किए गए राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के क्रम में एनसीडीसी की आयुष्मान सहकार योजना ग्रामीण क्षेत्रों में परिवर्तन लाएगी। ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी सशक्त उपस्थिति के चलते, योजना का फायदा उठाने वाली सहकारिताएं व्यापक स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं में क्रांति लाएंगी। कोई भी सहकारी समिति, जिसके उपनियमों में स्वास्थ्य देखभाल से संबंधित गतिविधियां संचालित करने के उपयुक्त प्रावधान हैं, एनसीडीसी निधि से राशि प्राप्त कर सकेगी। एनसीडीसी सहायता राज्य सरकारों/ केंद्र शासित क्षेत्रों के प्रशासनों के माध्यम से या योग्य सहकारिताओं को प्रत्यक्ष रूप से प्रदान की जाएगी। अन्य स्रोतों से सब्सिडी/अनुदान को संगठित किया जा सकता है। 

आयुष्मान सहकार योजना में अस्पताल के निर्माण, आधुनिकीकरण, विस्तार, मरम्मत, नवीकरण, स्वास्थ्य सेवा व शिक्षा के बुनियादी ढांचे के आदि को शामिल किया गया है.