ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
बाइक बोट घोटाले के इनामी आरोपी दो सगे भाई समेत तीन गिरफ्तार
October 7, 2020 • Ranjeet Pandit • Crime

एसटीएफ और आर्थिक अनुसंधान शाखा की टीम को मिली कामयाबी

नोएडा। दादरी पुलिस, एसटीएफ नोएडा और आर्थिक अनुसंधान शाखा की संयुक्त टीम ने बाइक बोट घोटाला मामले में फरार चल रहे दो अभियुक्तों समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें से एक गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर्स प्रा.लि. का निदेशक रहा है। गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर्स प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ बाइक बोट घोटाले में दादरी थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी। उस मामले में कई आरोपी अभी फरार चल रहे हैं। उनमें से से दो आरोपियों पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। इस मामले की जांच मेरठी की आर्थिक अनुसंधान शाखा और एसटीएफ नोएडा की टीम कर रही है।

मामले की जांच कर रही टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि बाइक बोट घोटाला मामले के दो आरोपी हापुड़ चुंगी से गुजरने वाले हैं। इस सूचना पर टीम ने घेराबंदी की। कुछ ही देर बाद एक एक कार को रोक कर उसमें बैठे लोगों की पहचान होने पर गिरफ्तार कर लिया गया। पकड़े गए आरोपियों में गौतमबुद्ध नगर के चीती गांव निवासी सचिन भाटी और पवन भाटी शामिल हैं। दोनों सगे भाई हैं। इनमें से सचिन भाटी गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर्स प्रा.लि. में निदेशक के पद पर तैनात रहा है। बाइक बोट घोटाला मामले में फरार रहने पर दोनों पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। इनका एक और भाई संजय भाटी पहले ही गिरफ्तार हो चुका है। उस पर भी 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। इसके अलावा पुलिस ने इस मामले में एक अन्य अभियुक्त मेरठ निवासी करणपाल सिंह पुत्र केहरी सिंह को भी गिरफ्तार किया है।