ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
देशवासियों के उत्तम स्वास्थ्य व सुरक्षित भविष्य के लिए लॉकडाउन बढ़ाना जरूरी: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
April 15, 2020 • Snigdha Verma • Health

प्रदेश में मजबूती के साथ हो लॉकडाउन का पालन

प्रदेश में अब तक 657 केस, 8 की मौत: प्रमुख सचिव स्वास्थ्य

लखनऊ। कोरोना वायरस के संबंध में अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी एवं प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने मंगलवार को संयुक्त रूप से यहां लोकभवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ाए जाने का स्वागत किया है। 130 करोड़ देशवासियों के उत्तम स्वास्थ्य व सुरक्षित भविष्य के लिए पीएम मोदी को सीएम योगी ने बधाई दी है। इसके साथ ही सीएम योगी ने लॉकडाउन का सख्ती व गंभीरता से पालन करने के लिए प्रदेशवासियों से अपील की है।

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार की सुबह 11 बजे टीम 11 के सदस्यों के साथ बैठक कर कई निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में फसल कटाई का सीजन चल रहा है। इसके लिए शासन स्तर पर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। 15 अप्रैल से फसल खरीद का काम शुरू हो जाएगा। फसलों को बाजार व मंडियों तक लाने ले जाने में किसानों को कोई परेशानी ना हो। इसके लिए सीएम योगी ने निर्देश दिए है।

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि चिकित्सा की आपातकालीन सेवा शुरू करने के लिए सीएम योगी ने अधिकारियों को निर्देश दिया है। आपातकालीन सेवा के दौरान स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा और संक्रमण से सर्तकता बरतने का भी निर्देश दिया गया है। सीएम योगी ने संक्रमण से बचाव के लिए स्वास्थ्य और स्वास्थ्य चिकित्सा विभाग के मास्टर ट्रेनर्स को ट्रेनिंग देकर जनपद स्तर पर भी नर्सिंग स्टाफ, पैरामेडिकल, एनसीसी, एनएसए से जुड़े स्वयं सेवकों को निरंतर प्रशिक्षण देने के निर्देश दिए हैं।    

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि प्रदेश में खाद्यान की कमी नहीं है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि लॉकडाउन का दूसरा चरण 15 अप्रैल से शुरू हो रहा है। ऐसे में प्रदेश स्तर पर निशुल्क राशन की समीक्षा कर ली जाए। इसके अलावा चिन्हित हॉटस्पॉट एरिया में सप्लाई चेन में कोई बाधा न आए सके, इसके लिए अधिकारियों को गंभीरता से निगरानी करने का आदेश सीएम योगी ने दिया है।

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा अब तक 15 जिलों में हॉटस्पॉट बनाए गए हैं। अब इनकी संख्या बढ़ गई है। 15 जिलों के अलग-अलग थानों के अंतर्गत 149 हॉटस्पॉट एरिया को चिन्हित कर लिया गया है। इस एरिया में 1 लाख 75 हजार 285 मकान और 10 लाख 5 हजार 762 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन हॉटस्पॉट्स से कोरोना पॉजिटीव के 443 केस सामने आए हैं। इन एरिया के घरों पर दमकल गाड़ियों से छिड़काव का आदेश मुख्यमंत्री योगी ने दिया है।

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि प्रदेश सरकार के अतिरिक्त प्रदेश के हर जिलाधिकारियों ने भी अपने जिलों में हॉटस्पॉट को चिन्हित करने का काम किया था, उसमें भी इजाफा हुआ है। इस प्रकार से अब 45 जनपदों के अलग अलग थाना अंतर्गत 68 हॉटस्पॉट एरिया को चिन्हित किया गया है। जिनमें 1 लाख 84 हजार 137 मकान और 10 लाख 91 हजार व्यक्तियों को चिन्हित किया गया है। मंगलवार तक इन हॉटस्पॉट एरिया से 80 कोरोना पॉजिटिव केसों की पुष्टि हुई। 

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि सभी आरोग्य सेतू एप को डाउनलोड करें। यूपी में अबतक लाखों लोगों ने इस एप को डाउनलोड किया है। सीएम योगी ने विशेष कर युवाओं, सरकारी अधिकारी व कर्मचारी, डाक्टरों से इस एप का प्रयोग करने की अपील की है।

प्रदेश में अब तक 657 केस, 8 की मौत: प्रमुख सचिव स्वास्थ्य

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में अबतक 657 केस सामने आए हैं। उपचार के बाद 657 में से 49 पेशेंट पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें घर भेज दिया गया है। जबकि 8 मरीजों की मौत हुई है, उन्होंने बताया कि मृतक पहले से ही किसी ना किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित थे। प्रदेश के 44 जनपद कोरोना से प्रभावित हुए हैं। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने टेस्टिंग की संख्या में इजाफा करते हुए सोमवार को 2634 सैंपलों की टेस्टिंग की है। वर्तमान में संदिग्ध व सर्विलांस के आधार पर 9274 लोगों को फैसिलिटी क्वारंटीन में रखा गया है।