ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
नोएडा अथॉरिटी दफ्तर में भीषण आग, सीईओ ने दिए जांच के आदेश
May 25, 2020 • स्निग्धा वर्मा • Crime
 दमकल की 4 गाड़ियों ने इंडस्ट्रियल डिपार्टमेंट में लगी आग को काबू में किया
 
 एसीईओ प्रवीण मिश्रा की अध्यक्षता में बनी 6 सदस्यीय कमेटी एक हफ्ते में देगी रिपोर्ट
 
नोएडा। सेक्टर-6 स्थित नोएडा अथॉरिटी के मुख्य प्रशासनिक भवन के इंडस्ट्रियल डिपार्टमेंट में सोमवार की सुबह नौ बजे आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची दमकल की 4 गाड़ियों ने लगभग तीन घंटे की मशक्कत के बाद आग को काबू में किया। ईद की छुट्टी के दिन हुई इस घटना की जानकारी मिलने पर प्राधिकरण के अफसर मौके पहुंच गए। सीईओ ऋतु माहेश्वरी ने इस घटना की जांच के लिए 6 सदस्यीय कमेटी बनाई है। एसीईओ प्रवीण मिश्रा की अध्यक्षता में बनाई गई कमेटी एक हफ्ते में अपनी रिपोर्ट पेश करेगी।  
 
सेक्टर-6 स्थित नोएडा अथॉरिटी में सोमवार को ईद के त्योहार के कारण अवकाश था। सुबह करीब 9 बजे मुख्य प्रशासनिक भवन के इंडस्ट्रियल डिपार्टमेंट से धुआं उठता दिखाई दिया। देखते ही देखते आग ने फाइलों के ढेर को अपनी चपेट में ले लिया। तेजी से बढ़ रही आग की सूचना फायर डिपार्टमेंट को दी गई। चीफ फायर ऑफिसर अरुण कुमार  ने बताया कि सूचना मिलते ही 4 फायर टेंडर को मौके पर भेजा गया। लगभग तीन घंटे की मशक्कत के बाद आग को काबू में किया गया। उन्होंने बताया कि यद्यपि आग को काबू में कर लिया गया था, लेकिन एहतियातन एक फायर टेंडर को वहां शाम चार बजे तक तैनात किया गया था। उन्होंने बताया कि बिजली की शार्ट सर्किट भी आग लगने का कारण हो सकता है, लेकिन फोरेंसिक जांच रिपोर्ट के बाद ही आग लगने के कारणों का खुलासा होगा। 
 
अथॉरिटी के चीफ इंजीनियर रहे यादव सिंह के घोटाला कांड के बाद से प्राधिकरण की कई विभागों की ओर से जांच की जा रही है। इससे पहले भी अथॉरिटी में आग लगने घटना होने के कारण इस बार हुई आग की घटना को सीईओ ऋतु माहेश्वरी ने बेहद गंभीरता से लिया है। उन्होंने इस मामले की जांच के लिए एसीईओ प्रवीण मिश्रा की अध्यक्षता में छह सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी में विशेष कार्य अधिकारी (आरके), विशेष कार्याधिकारी (यू), महाप्रबंधक (के), महाप्रबंधक (आर) और सहायक महाप्रबंधक (सिस्टम) को शामिल किया गया है। कमेटी को एक हफ्ते में रिपोर्ट पेश करने को कहा गया है। यह कमेटी आग लगने के कारणों, कार्यालय में रखे रिकॉर्ड के नुकसान का आकलन और अग्निकांड के लिए जिम्मेदारी व्यक्ति का निर्धारण करेगी।
 
 
 
 
ReplyForward