ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
फैक्ट ने उर्वरकों के लदान के लिए तीन पोत खरीद के ऑर्डर दिए
July 10, 2020 • Snigdha Verma • Financial

दो पोत लदान पहुंचे, एक के अगस्त तक आने की उम्मीद

वित वर्ष 2019-20 के दौरान कंपनी ने रिकॉर्ड शुद्ध लाभ अर्जित किया

 Delhi

केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय के तहत एक पीएसयू फर्टिलाइजर्स एंड कैमिकल्स ट्रैवेनकोर लिमिटेड (फैक्ट) ने 2020-21 के पहले तीन महीनों के दौरान उत्पादन एवं विपणन मोर्चे पर उत्साहवर्द्धक प्रदर्शन किया है।

कंपनी उर्वरकों के व्यापार के द्वारा टॉप एवं बॉटम लाइनों में सुधार की योजना बना रही है। अभी तक कंपनी ने उर्वरकों के तीन पोत लदान के आयात के लिए खरीद ऑर्डर दिए हैं। इनमें से दो पोत लदान पहले ही पहुंच चुके हैं। इनमें से पोत लदान 27500 एमटी एमओपी का है जबकि दूसरा 27500 एमटी कंपलेक्स फर्टिलाइजर का है। तीसरा पोत लदान एमओपी का है जिसके अगस्त में आने की उम्मीद है।

कंपनी प्रमुख रखरखाव गतिविधियों को पूरी करने एवं ऑनलाइन इफ्लुएंट मॉनिटरिंग सुविधाओं को संस्थापित करने के बाद वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान कैप्रोलैक्टम प्रचालन फिर से आरंभ करने की योजना बना रही है। संयंत्रों का परीक्षण परिचालन पूर्ण हो चुका है।

वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान फैक्ट ने अपने प्रमुख उत्पाद फैक्टमफोस, अमोनियम सल्फेट के उत्पादन, अपने शुद्ध लाभ तथा उर्वरकों की बिक्री में नई ऊंचाइयां छू ली हैं। वर्ष की प्रमुख विशेषताएं इस प्रकार है:-

टर्नओवर:

सीवाई  2770 करोड़ रुपये          पीवाई  1955 करोड़ रुपये 

लाभ:

सीवाई  976 करोड़ रुपये          पीवाई  163 करोड़ रुपये

 

फैक्टमफोस (एनपी 20:20:0:13) का 8.45 लाख एमटी का उत्पादन एक सर्वकालिक उच्च रिकॉर्ड है जो 2000-2001 के दौरान अर्जित अब तक के सर्वश्रेष्ठ 8 : 38 लाख एमटी से भी अधिक है।

अमोनियम सल्फेट का 2.21 लाख एमटी का उत्पादन 19 वर्ष की अवधि का सर्वाधिक है।

फैक्टमफोस की 8.35 लाख एमटी की बिक्री भी 19 वर्ष की अवधि में सर्वाधिक है और अमोनियम सल्फेट की 2.36 लाख एमटी की बिक्री भी 19 वर्ष की अवधि में सबसे अधिक है।

सिटी कंपोस्ट की वर्ष के दौरान बिक्री (13103 एमटी) सर्वकालिक ऊंचाई पर रही ( पिछला सर्वश्रेष्ठ 9370 एमटी का था )

वर्ष के दौरान, कंपनी ने उर्वरक विपणन प्रचालनों को पूरे भारत वर्ष में विस्तारित कर दिया और विपणन नेटवर्क को बढ़ाकर पश्चिम बंगाल, ओडिशा, महाराष्ट्र एवं गुजरात तक पहुंचा दिया। पहले कदम के रूप में, कंपनी ने महाराष्ट्र एवं पश्चिम बंगाल के राज्यों में अमोनियम सल्फेट का विपणन आरंभ कर दिया।