ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
प्रतिस्पर्धा आयोग द्वारा अमज़ोन एवं फ्लिपकार्ट के ख़िलाफ़ जाँच के आदेश का कैट  ने किया स्वागत
January 14, 2020 • Snigdha Verma

नोएडा

सुशील कुमार जैन संयोजक कैट दिल्ली एन सी आर ने बताया कि भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने दिल्ली व्यापार महासंघ की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए आयोग के महानिदेशक को अमज़ोन और फ्लिपकार्ट द्वारा अपनाई जा रही अस्वस्थ व्यापारिक पद्धति और व्यापारी संघ द्वारा लगाए गए गम्भीर आरोपों की जाँच का आज आदेश दिया है ।

कन्फ़ेडरेशन ओफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्ज़ (कैट) जो पिछले 3 महीने से देश भर में अमज़ोन और फ्लिपकार्ट के ख़िलाफ़ एक ज़बरदस्त राष्ट्रीय आंदोलन चला रहा है , के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री श्री प्रवीन खंडेलवाल ने आयोग के इस निर्णय का स्वागत करते हुए कहा की देश के 7 करोड़ व्यापारी इस बहुप्रतिक्षित आदेश की काफ़ी लम्बे समय इस इंतज़ार कर रहे थे । आयोग। द्वारा महानिदेशक को स्पष्ट आदेश दिया जाना की दोनों कम्पनियों द्वारा लागत से भी कम मूल्य पर माल बेचा जाना, भारी डिस्काउंट देना, अपने चहेते विक्रेताओं से ही माल बिकवाना, अपने पोर्टल पर एस्क्लूसिव उत्पाद बेचना , बाज़ार में क़ीमतों को प्रभावित करना जैसे अनैतिक व्यापारिक सिस्टम की भी गहराई से जाँच होनी चाहिए । श्री भरतिया एवं श्री खंडेलवाल ने कहा की आयोग की जाँच दोनों कम्पनियों को बेनक़ाब करेगी । 

श्री भरतिया एवं श्री खंडेलवाल ने यह भी कहा की इन दोनों कम्पनियों द्वारा सरकार को ज़ीएसटी एवं आय कर का बड़ा चूना लगाया जा रहा है जिसको लेकर कैट बहुत जल्द वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीथारमन से मिलेगा और इस मुद्दे पर भी सरकार से जाँच करने की माँग की जाएगी । 

श्री भरतिया एवं श्री खंडेलवाल ने स्पष्ट तौर पर कहा की या तो दोनों कम्पनियाँ एफ़डीआइ पॉलिसी का अक्षरश पालन करें अथवा भारत के बाज़ार से अपना बोरिया बिस्तर बांध लें । हम किसी भी क़ीमत पर भारत में अब किसी दूसरी ईस्ट इंडिया कम्पनी को पनपने न देंगे ।