ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
रामदेव नक्सली ईसाई आतंकवादियों की भाषा बोल रहे हैं - स्वामी ओम जी
December 6, 2019 • Snigdha Verma


नक्सली ईसाई आतंकवादी टुकड़े - टुकड़े गैंग और उसका पाला मीडिया आतंकवादी साजिश के तहत बलात्कार का हौव्वा खडा कर रहा है- दारा सेना

धर्मरक्षक श्री दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मुकेश जैन की अध्यक्षता में हुई हिन्दू संगठनों की बैठक में हैदराबाद में हुई दिशा हत्याकाण्ड के 4 आरोपियों की पुलिस द्वारा की हत्या की जम कर निन्दा की गयी और इसे तेलंगना के मुख्यमंत्री श्री के चन्द्रशेखर राव द्वारा संविधान की हत्या करार देते हुए इसे कानून और संविधान का राज नहीं सुनियोजित जंगलराज बताया गया।

बैठक में दारा सेना के राष्ट्रीय महामंत्री स्वामी ओम जी ने कहा कि देश में बलात्कार का हौव्वा खड़ा किया जा रहा है। जिसे सी आई ए की साजिश के तहत उसका सम्पूर्ण नक्सली ईसाई आतंकवाद गैंग हवा दे रहा है।
स्वामी ओम जी ने खुलासा किया कि बलात्कार के खिलाफ आमरण अनशन पर बैठी दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल जिसने हिन्दू नवयुवतियों को अपने अनाथालयों में पनाह देने वाले बाबा वीरेन्द्र देव दीक्षित को भी बिना साक्ष्य सबूत बलात्कारी साबित कर दिया था और जो अपने आपको फौजी की बेटी बताती है, वास्तव में फौजियों को जान से मारने वाले नक्सली मिश्निरी ईसाई आतंकवादी बिनायक सेन की साथी है। स्वामी ओम जी ने इसके साक्ष्य में बताया कि 28 जनवरी 2008 को खूंखार नक्सली मिश्निरी आतंकवादी बिनायक सेन को रिहाई और इस फौजियों के हत्यारे देशद्रोही के खिलाफ छत्तीसगढ सरकार द्वारा दायर मुकदमा वापिस लेने के लिये एक संयुक्त वक्तव्य नक्सली मिश्निरी आतंकवादियों के साथियों द्वारा जारी किया गया। जिसे जारी करने वाले सूची में अरविन्द केजरीवाल और मनीष सिसौदिया के साथ-साथ स्वाति मालीवाल का भी नाम है।
इतना ही नहीं इस खूंखार नक्सली आतंकवादी बिनायक सेन को 24 दिसम्बर 10 को छत्तीसगढ न्यायालय द्वारा देशद्रोह का जुर्म साबित होने के बाद आजीवन कारावास की सजा सुनाये जाने के बाद भी यही स्वाति मालीवाल अपने साथी मनीष सिसौदिया और अरविन्द केजरीवाल के साथ मिलकर 28 दिसम्बर 10 को न्यायालय का फैसला गलत बताकर इस देशद्रोही की रिहाई की मांग भी करती है। 

स्वामी ओम जी ने बाबा रामदेव के द्वारा हैदराबाद में हुए 4 नवयुवकों के पुलिसिया कत्ल पर खुशी व्यक्त करने को नक्सली आतंकवादी देशद्रोही केजरीवाल की भाषा बोलना बताया। स्वामी ओम जी ने उल्लेख किया कि भारत की लोकतान्त्रिक सरकार के गिराने के नक्सली ईसाई आतंकवादियों के अन्ना आन्दोलन में भी बाबा रामदेव इन देशद्रोहियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा था।

बैठक में दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्मुकेश जैन ने बताया कि सी आई ए के ईशारे पर उसका ऐजेन्ट अरविन्द केजरीवाल बलात्कार का हौव्वा खड़ा कर रहा है ताकि आने वाले वक्त में इन देशद्रोही नक्सली ईसाई आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हमारे बहादुर सैनिकों को अपने गैंग की किसी भी लड़की को खड़ा करके इन सैनिको को भीड़ द्वारा या ईसाई बहुल राज्य की पुलिस द्वारा मरवाया जा सके।
श्री जैन ने सरकार को खास तौर माननीय गृहमंत्री श्री अमित शाह को आगाह किया कि वें हन देशद्रोहियों और इनके जर खरीद सी आई ए के ऐजेन्ट मीडिया द्वारा खड़े किये जा रहे बलात्कार को हौव्वे से सावधान रह कर ठंडे दिमाग से काम ले। श्री जैन ने स्पष्ट किया कि उन्नाव काण्ड बलात्कार काण्ड नही, बल्कि धरेलू हिंसा और परस्पर वैमनैस्य का मामला है। जिसमें लिव एन रिलेशन शिप में रह रही लड़की अपने साथी पर बलात्कार का आरोप लगाकर जेल भिजवा रही है। जबकि यें लड़की स्वेच्छा से बिना किसी जोर जबरदस्ती के आरोपी लड़के के साथ लगातार और बारम्बार सहवास कर रही थी। जबकि भारतीय दण्ड संहिता की धारा 164क के तहत बलात्कार के लिये जोर जबरदस्ती जरूरी है। ऐसे में जेल में बिताये बुरे दिन और घर परिवार में हुई बदनामी का बदला लेने के लिये लड़की के साथी ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर लड़की पर पैट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। जिसे मीडिया बलात्कार का मामला बता रहा है जबकि आग लगाने से ठीक पहले लड़की  के साथ कोई बलात्कार नहीं हुआ है।
दारा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्मुकेश जैन ने कहा कि एक सोची समझी साजिश के तहत सी आई ए के नक्सली मिश्निरी ईसाई आतंकवादी गैंग की स्वाति मालीवाल जैसी सिपाहसालार एक-एक कर बाबा वीरेन्द्र देव दीक्षित, आसा राम बापू , बाबा राम रहिम , सन्त रामपाल,स्वामी चिन्मयानन्द, स्वामी नित्यानन्द जैसे ख्याति प्राप्त हिन्दू संतों को निशाना बनाकर उनके आश्रमों को बर्बाद कर रही है ताकि बेघर मजबूर हिन्दू कन्याओं को केवल और केवल ईसाई अनाथलयों में ही आश्रय मिले और इन हिन्दू लडकियों से ईसाई अनाथलयों में बलात्कार करके आतंकवादी ईसाई पादरी अनाथ ईसाई बच्चे पैदा करके भारत सरकार के खिलाफ नक्सली ईसाई आतंकवादियों की बडी फौज बनाकर भारत को ईसाई देश बनाने की सी आई ए की साजिश को अंजाम दे सके।

हिन्दू संगठनों ने केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह से मांग की कि वें पुलिस को चेताये कि पुलिस बलात्कार का मुकदमा दर्ज करने से पहले भारतीय दण्ड संहिता के अनुच्छेद 164क के तहत मैडिकल परीक्षण में प्र्याप्त साक्ष्य मिलने के बाद ही दर्ज करे ताकि उन्नाव जैसे पत्नी की तरह रह रही लड़किया वैमनैसय की आग में जलने से बच सके। हिन्दू संगठनों ने स्वाति मालीवाल जयहिन्द जैसी देशद्रोही ताकतों के जयहिन्द की आड में देशद्रोह और जय लाल सलाम का नारा लगाने वाली नक्सली मिश्निरी आतंकवादी गैंग के कुत्सिंग मंसूबों से भी सावधान रहने को आगाह किया , जो बलात्कार का हौव्वा खड़ा करके सी आई ए की फन्डिग पर भारत को टुकडे-टुकडे करके एक अलग ईसाई देश बनाने की विदेशी साजिश में शामिल है।
दारा सेना ने सरकार से मांग की कि सरकार और दिल्ली पुलिस स्वाति मालीवाल से पूछताछ का दायरा बढाकर देशद्रोहियों और नक्सली आतंकवादी बिनायक सेन से उसके सम्बन्धों का भी खुलासा करे।