ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
सफाई में कोताही बरतने वाली एजेंसियों को ब्लैक लिस्ट करें : ऋतु माहेश्वरी
October 15, 2020 • Snigdha Verma • Health

 सफाई व्यवस्था की अफसरों और एजेंसियों के साथ सीईओ ने की समीक्षा बैठक

नोएडा। स्वच्छता सर्वेक्षण में अहम मुकाम बना चुके नोएडा शहर की साफ सफाई के प्रति नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु माहेश्वरी कोई ढील देने के मूड में नहीं हैं। उन्होंने सभी सफाई एजेंसियों को सख्त हिदायत दी है कि शहर की सफाई व्यवस्था में किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

उन्होंने अफसरों को भी निर्देश दिए कि लापरवाही बरतने वाली एजेंसी और कर्मचारियों को काली सूची में डालें और उनके भुगतान से कटौती कर जुर्माना वसूलें। सीईओ ने जिग्मा ग्लोबल के अधिकारियों को कहा कि सेक्टर-145 के डंपिंग ग्राउंड में दिसंबर तक सभी कूड़ा रिमेडियेशन करके साइट खाली करा दिया जाए। उन्होंने जन स्वास्थ विभाग के प्रभारी से कहा कि वहां पर एक कर्मचारी तैनात किया जाए, जो रोजाना की रिपोर्ट पेश करे। उन्होंने ड्रोन से फोटोग्राफी कराने के भी निर्देश दिए। सीईओ ने कहा कि डंपिंग ग्राउंड में सभी साइट खाली कराने के बाद वहां पेड़ पौधे लगाकर सुंदरीकरण किया जाए। उन्होंने सडकों की मैकेनिकल स्वीपिंग में किसी भी तरीके की लापरवाही न बरतने के निर्देश दिए और कहा कि इस बात का ध्यान रखा जाए कि कम से कम धूल उड़े।

सीईओ ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे रोजाना कम से कम एक घंटा का समय साफ सफाई की व्यवस्था का निरीक्षण करने और उस पर निगरानी करने के लिए लगाएं। स्वास्थ विभाग की समीक्षा बैठक में एसीईओ प्रवीण मिश्रा, ओएसडी इंदु प्रकाश सिंह, जन स्वास्थ विभाग के प्रभारी एससी मिश्रा के अलावा मैकेनिकल स्वीपिंग करने वाली एजेंसी बीबीजी प्राइवेट लिमिटेड, सीएनडी वेस्ट को हटाने और उसका निस्तारण करने वाली एजेंसी रेंकी तथा कूड़े के निस्तारण के लिए बायो रिमेडिएशन के कार्य में लगाई गई एजेंसी जिग्मा ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड के प्रतिनिधि भी मौजूद थे।