ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
शाओमी इंडिया चीफ के बयान को कैट ने बेतुका बताया और बड़बोलेपन पर लगाम लगाने को कहा
June 27, 2020 • Snigdha Verma • Financial

नोएडा

कनफेडेरशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स  (कैट ) ने आज चीनी स्मार्टफोन निर्माता शाओमी के चीफ मनु कुमार जैन के उस बयान की कड़ी निंदा की है जिसमें उन्होंने चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अभियान का मजाक उड़ाते हुए कहा की यह केवल सोशल मीडिया पर ही चल रहा है ! कैट ने इस बयान को बेहद असंवेदनशील और अपमानजनक बताते हुए कहा की यह बयान ने देश के करोड़ों भारतीयों की भावनाओं को गहरी चोट पहुंचाई है !ऐसे समय में जब पूरा देश भारतीय सैनिकों के खिलाफ चीनी क्रूरता के कारण बेहद गुस्से में है ऐसे में श्री मनु जैन इस स्तिथि में भी अपने चीनी आकाओं को खुश करने में लगे हैं ।कैट ने शाओमी प्रमुख के बयान की कड़ी आलोचना करते हुए कहा की यह देश की मौजूदा भावना के खिलाफ है और एक भारतीय के रूप में उनको अपने बड़बोलेपन की बजाय मौन रखना ज्यादा बेहतर था।

दूसरी ओर कैट के राष्ट्रीय महामंत्री  प्रवीन खंडेलवाल ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और रवीना टंडन को चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अभियान के लिए उनके अप्रतिम समर्थन के लिए धन्यवाद दिया ! दोनों अभिनेत्रियों ने  भारत के लोगों से चीनी वस्तुओं के स्थान पर भारतीय उत्पादों का उपयोग करने की अपील की। श्री खंडेलवाल ने कहा की 'हम बॉलीवुड एवं क्रिकेट के अन्य सितारों के इस अभियान से जुड़ने की प्रतिष्ठा कर रहे हैं और उम्मीद है की अन्य लोग भी कंगना और रवीना का अनुसरण कर इस मुद्दे पर देश के लोगों की भावनाओं से जुड़ेंगे !

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष  बी.सी.भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री  प्रवीन खंडेलवाल ने शाओमी इंडिया के प्रमुख के बयान को गंभीरता से लेते हुए कहा कि उनके द्वारा इस तरह के बयान बेहद गैर जिम्मेदाराना और अफसोसजनक हैं। उन्होंने कहा की जब भारत के लोगों ने चीनी वस्तुओं के बहिष्कार अभियान का चारों तरफ से जोरदार समर्थन करने का निर्णय लिया है और देश की विभिन्न हस्तियां भी इस आंदोलन को अपना समर्थन दे रही हैं ऐसे में श्री जैन का गैरज़िम्मेदारां बयान दर्शाता है कि वह देश की  जमीनी हकीकत से पूरी तरह बेखबर हैं और वातानुकूलित वातावरण में बैठ कर बयानबाज़ी कर रहे हैं और केवल अपने व्यापारिक लाभ के लिए इस तरह की टिप्पणी कर  देश के बहादुर भारतीय सैनिकों के बलिदान और शहादत को पूरी तरह से नकार रहे हैं ! 

भारतीय सैनिकों पर चीनी हमले के बाद भारत में  कार्यरत अधिकांश चीनी सीईओ चुप हैं और वहीँ श्री जैन जो खुद भारतीय हैं,  लगातार चीन और चीनी उत्पादों की वकालत करने की कोशिश कर रहे हैं !

 सुशीलकुमारजैन, संयोजक,
कैट दिल्ली एन सी आर ने  कहा कि बहुत जल्द श्री मनु कुमार जैन और उन सभी लोगों को जो महसूस करते हैं कि बॉयकॉट चीनी वस्तुओं के अभियान का कोई मतलब नहीं है, उन्हें एहसास होगा कि वे स्तिथि का आकलन करने में कितने गलत थे। कैट  चीनी सरकार का  मुखपत्र अखबार  द ग्लोबल टाइम्स की चुनौती को पहले ही स्वीकार किया और अब शाओमी प्रमुख के बयान को भी कैट ने एक चुनौती के रूप में स्वीकार किया है और जल्द आने वाला समय उन्हें बताएगा की यह अभियान केवल सोशल मीडिया पर ही नहीं बल्कि देश के कोने कोने में बेहद तीव्रता के साथ दिखाई देगा  दिन ज्यादा दूर नहीं है । भारत के कुछ बड़े त्यौहार राखी, जन्माष्टमी, नवरात्रि और दिवाली आगामी कुछ महीनों में होंगे और चीनी वस्तुओं के बहिष्कार की बानगी इन त्योहारों पर साफ़ दिखाई देगी।