ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
ट्रिलियन अर्थव्यवस्था में व्यापारियों की रहेगी अहम् भूमिका:पीयूष गोयल
February 2, 2020 • Snigdha Verma

नयी दिल्ली

वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने रविवार को दिल्ली के व्यापारियों को आश्वासन दिया कि केंद्र सरकार उनके द्वारा सामना किए जा रहे विभिन्न ज्वलंत मुद्दों के प्रति पूरी तरह से सजग है और इन मुद्दों को तेज गति से हल करने के लिए सरकार आक्रामक नीति तैयार कर रही है । सुशील कुमार जैन चेयरमैन कैट  दिल्ली एन सी आर ने बताया कि पीयुष गोयल जी आज नई दिल्ली में आयोजित व्यापारियों की एक बैठक में बोल रहे थे जिसमें बड़ी संख्या में दिल्ली के व्यापारी नेताओं ने भाग लिया।

कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय महामंत्री श्प्रवीन खंडेलवाल ने व्यापारिक समुदाय के मुद्दों के विषय में  पीयूष गोयल से कहा कि देश भर के व्यापारी भारत को 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था बनाने के लिए प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के आव्हान पर सरकार के साथ सहयोग करने के लिए तत्पर हैं ! इसलिए देश में घरेलू व्यापार के विकास पर ज्यादा ध्यान देकर उसके अनुरूप नीति बनाने पर सरकार से व्यापारियों को बहुत अपेक्षा है ! उन्होंने देश में छोटे व्यापारियों के लिए कारोबार करने में आसानी के लिए सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों की सराहना की लेकिन यह भी कहा कि इस संबंध में बहुत कुछ किए जाने की जरूरत है।

पीयूष गोयल ने व्यापार जगत के नेताओं से बात करते हुए कहा कि स्वदेशी मोदी सरकार का मूल मंत्र है और इस तरह से देश में 130 करोड़ लोगों के लिए पहला संपर्क बिंदु होने के नाते व्यापार समुदाय न केवल स्वदेशी उत्पादों का उपयोग करे बल्कि उन्हें ज्यादा से ज्यादा बेचे जाने का ब्बि प्रयास आवश्यक है । ऐसा प्रयास अर्थव्यवस्था को अन्य लोगों पर निर्भर करने के बजाय अपने पैरों पर मजबूती से खड़े होने में मदद करेगा। उन्होंने व्यापारियों को स्वदेशी उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए आह्वान पर ध्यान देने की बात दोहराई। उन्होंने उम्मीद जताई कि यह कदम भारत को दोहरे अंकों में वृद्धि की ओर ले जाएगा।

श्री गोयल ने केजरीवाल सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि उसने दिल्ली में व्यापार और उद्योग को बढ़ावा देने के लिए पिछले 5 वर्षों में कुछ नहीं किया है, जिससे दिल्ली व्यापार के सदियों पुराने वितरण चरित्र को बहुत नुकसान हुआ है। दूसरी ओर, व्यापारियों को सीलिंग और विध्वंस से राहत देने के लिए केंद्र सरकार कई योजनाएं लाई है और यहां तक कि व्यापारियों का न्यायालय में बचाव भी किया है।

उन्होंने देश में कार्यरत प्रतिष्ठानों एवं उनमें काम करने वाले लोगों की संख्या का एक संपूर्ण डेटा बेस तैयार करने के लिए उनके आव्हान को स्वीकार करने के लिए कैट की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस तरह के डेटा से सरकार को व्यापारियों के लिए सरकार की समर्थन नीतियां लाने में मदद मिलेगी। उन्होंने व्यापारियों से उच्च गुणवत्ता वाले सामानों का व्यापार करने और अन्य देशों में भारतीय वस्तुओं के निर्यात के लिए योजना तैयार करने की भी अपील की। उन्होंने आश्वासन दिया कि सरकार निर्यात को बढ़ावा देने के लिए सभी पहलुओं में व्यापारियों की मदद करेगी।