ALL Crime Ministries Science Entertainment Social Political Health Environment Sport Financial
व्यापार में घाटा और बेरोजगारी अब लोगों के जीवन पर पड़ने लगा भारी ,जज के बेटे और महिला ने की आत्महत्या
July 5, 2020 • Snigdha Verma • Crime

लॉकडाउन के कारण व्यापार में घाटे से सदमे में था जज का बेटा

नोएडा। व्यापार में घाटा और बेरोजगारी अब लोगों के जीवन पर भारी पड़ने लगा है। रविवार को शहर में दो लोगों के आत्महत्या करने का मामला उजागर हुआ है। इनमें एक जज का बेटा भी शामिल है। बताया जाता है कि लॉकडाउन के कारण व्यापार में घाटे के कारण वह अवसाद में था। 

जानकारी के मुताबिक थाना सेक्टर-39 क्षेत्र स्थित सेक्टर-46के ए-136 में एडीजे सुबा सिंह रहते हैं। फिलहाल वह आगरा में तैनात हैं। वह गौतमबुद्ध नगर में भी रह चुके हैं। उनका बेटा शैलेंद्र सिंह उर्फ सन्नी यहीं रहता है। उसकी सेक्टर-40 में मोबाइल की दुकान है। बताया जाता है कि लॉकडाउन के कारण दुकान बंद होने से उसे भारी नुकसान हुआ है, जिससे वह अवसाद में रहने लगा था। शनिवार की रात किसी वक्त शैलेंद्र सिंह पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है। 

इस बीच, थाना फेज-दो क्षेत्र के सेक्टर-82 में एक 32 वर्षीय महिला ने घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक रविवार की सुबह सूचना मिली कि सेक्टर-82 के 122डी एलआईजी, उद्योग बिहार में रहने वाले आदिल रशीद की 32 वर्षीय पत्नी रोजी बेगम ने घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले परिजन एक निजी अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।